Breakfast

MP का मशहूर इंदौरी पोहा बनाने का सही तरीका | Market Style Indori Poha Recipe

इंदौरी पोहा सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में प्रसिद्ध है, इसके चटपटे स्वाद के आगे सब फीका लगता है, पोहे को सबसे हल्का, बढ़िया और पौष्टिक नाश्ता कहा जाता है, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात का पोहा काफी लोकप्रिय है, आपने बेशक घर पर अपने स्टाइल में पोहा जरूर बनाया होगा पर आज मैं आपसे इंदौरी पोहे ही रेसिपी शेयर कर रही हूं, असली पोहे का मजा तो इसी में है, आप एक बार इस तरीके से पोहे की रेसिपी बना लेंगे हमेशा ऐसे ही बनायेंगे, आइए जानते है एक दम खिला खिला और स्वादिष्ट पोहा बनाने का सही तरीका

इसके लिए आपको चाहिए

* पोहा – 2 कप

* प्याज- 1 मीडियम बारीक कटा हुआ

* हरी मिर्च- 3 कटी हुई

* करी पत्ता- 8 से 10

* साबुत धनिया- 1 छोटा चम्मच

* उबले हुए आलू – छोटे टुकड़ों में कटी हुई

* उबले या फ्रोजन हरे मटर- 1/2 छोटी कटोरी

* चीनी- 1/2 छोटा चम्मच

* राई दाना- 1/4 चम्मच

* सौंफ- 1 छोटा चम्मच

* काली मिर्च – 10 ग्राम

* सूखा पुदीना – 2 चम्मच

* हल्दी पाउडर – 1/4 चम्मच

* जीरा – 1/4 चम्मच

* हींग – 2 चुटकी

* घी या तेल – 2 चम्मच

* नमक – स्वादानुसार

परोसने के लिए सामग्री

* नमकीन- सेव भुजिया

* प्याज- बारीक कटी हुई

* तली या भुनी हुई मूंगफली- 1/4 कप

* अनार दाने- थोड़े जीर

* नींबू- कुछ टुकड़े

* धनिया पत्ती- बारीक कटी थोड़ी सी

* जीरावान मसाला- थोड़ी सी

इंदौरी पोहा बनाने की विधि

* सबसे पहले पोहे को 2 बार धो लीजिए, इसे बस गीला करने जितना धोएं ज्यादा देर न धोए न ही भिगो कर रखे, ये जल्दी पानी सोख लेती है बस 2 बार धोने से ही पोहे का एक एक दाना खिला खिला बनेगा, पोहे को धो कर छननी के ऊपर रख दे.

* अब मीडियम आंच पर कढ़ाई में तेल या घी डाल कर गरम होने रखिए, जब तेल गरम हो जाए तो इसमें राई, सौंफ, हरी मिर्च, करी पत्ता, जीरा, हींग डाल कर चटकाएं

* खड़े मसालों का तड़का लगाने के बाद इसमें प्याज, हरी मटर डाल कर प्याज को हल्का गुलाबी होने तक भूनिए

* इसके बाद कढ़ाई में पोहा डाले और अच्छे से मिलाएं, ऊपर से नमक, चीनी और हल्दी पाउडर डाल कर अच्छे से मिलाएं.

* अब कढ़ाई को ढक कर पोहे को 2-3 मिनट पकाएं और फिर आंच को बंद कर दीजिए, अब ढक्कन हटाकर पोहे को थोड़ा नरम बनाने के लिए इसमें हल्का पानी छिड़क दें और फिर एक मिनट के लिए इस से इसमें अच्छे से स्टीम आ जायेगी.

* एक मिनट बाद ढक्कन हटाए और पोहे में भुनी मूंगफली मिला दीजिए, और ऊपर से हरा धनिया, सेव, अनार के दाने, कटा हुआ प्याज, जीरावन मसाला डाल कर सर्व करे.

अगर आप सोच रहे है जीरावन मसाला क्या है,आज हम आप के खाने के लिये जीरावन मसाला बनाना भी सिखाएंगे,जीरावन या जीरामन मसाला पाउडर मध्य भारत में बहुतायत में इस्तेमाल किया जाता है.

जैन रेसिपी बनाने के लिये कुछ लोग बडे़ परेशान रहते हैं, इसे बिल्कुल सादे ढंग से बनाना पड़ता है जिस में बिल्कुल भी लहसुन-प्याज का प्रयोग नहीं करना होता है.

खासतौर पर पोहे और पकौड़ों में तो यह जरूर डाला ही जाता है.
इस का तीखा पन सब्जियों को भी टेस्टी बना देता है, तो आइए बनाना सीखते हैं यह टेस्टी मसाला पाउडर.

इसके लिए आपको चाहिए

* कश्मीरी लाल मिर्च साबुत -200 ग्राम

* अमचूर पाउडर -100 ग्राम

* साबुत धनिया -50 ग्राम

* हल्दी पाउडर- 50 ग्राम

* काला नमक- 50 ग्राम

* जीरा- 20 ग्राम

* सौंफ -40 ग्राम

* सोंठ -20 ग्राम

* दालचीनी -2 इंच टुकड़ा

* लौंग -15-20

* तेजपत्ता -15-20

* बड़ी इलायची- 10-15

* शाहीजीरा काला जीरा – 15

* जावित्री- 2-3

* जायफल- 1

* हींग – 1/2 चम्मच

3 चम्मच नमक

* नमक छोड़ कर सभी मसालों को पैन में डाल कर भून लीजिए, 3 से 4 मिनट में खड़े मसालों से अच्छी खुशबू आने लगती है, गैस बंद कर दे और मसालों को ठंडा कर इसका बारीक पाउडर पीस कर तैयार कर लीजिए, और फिर नमक मिला कर इसका उपयोग करे, इस तरह से जीरावन मसाला बहुत आसानी से आप घर पर बना सकते है एक दम शुद्ध और स्वादिष्ट.

इसे बना कर आप एयरटाइट डब्बे में बंद कर के रखे ये 6 महीने तक खराब नहीं होती.

LEAVE A RESPONSE

error: Content is protected !!