Desserts

आगरे का पेठा बनाने की विधि | Agra Ka Petha Recipe | Petha Sweet Recipe

पेठा का नाम आते ही आगरे का नाम याद आ जाता है, जी हां पेठा मुख्य रूप से आगरा में ही बनाया जाता है, ये दुनिया भर में आगरे का पेठा नाम से मशहूर है,

पेठा मिठाई बनाने में घी या तेल का उपयोग बिल्कुल नहीं किया जाता है, इसकी मिठाई बनाने के लिए पेठे का फल अच्छा पका हुआ होना चाहिए.

पेठा का फल कद्दू के बराबर बड़ा लौकी के रंग का होता है, पेठा की सब्जी भी बनाई जाती है, पर पेठा मिठाई कई तरीके से बनाया जाता है.

सबसे ज्यादा सूखा पेठा बनाया जाता है.

अंगूरी पेठा जो रस में डूबा रहता है, और नारियल पेठा जो नारियल का कसा डाल कर बनाया जाता है, साथ ही पेठे को रंग, शेप और एसेंस मिला कर भी बनाया जाता है.

आज मैं आपसे सामान्य पेठा मिठाई की रेसिपी बता रही हूं जो आप सब आसानी से घर पर बना सकते है.

इसके लिए आपको चाहिए

* पेठा फल – 2 किलो

* चीनी – 5 कप 1.2 किलो

* चूना – 2 छोटी चम्मच

पेठा मिठाई बनाने की विधि – How to make Petha Sweet

स्टेप – 1 पेठा फल के बीच का नरम भाग काट कर हटा लीजिए, पेठे को छोटे छोटे टुकड़ों में काट कर छिलके हटा ले,

एक नुकीली चीज़ या फॉर्क की मदद से पेठे को थोड़ी थोड़ी दूरी पर गोंद दीजिए अब एक बर्तन में चुना और पानी डाल कर मिक्स कर लीजिए

और इस चुने मिले पानी में पेठे डाल कर 10-12 घंटे के लिए ढक कर रख दीजिए.

स्टेप -2 तय समय बाद पेठे को चुने के पानी से निकाल कर रगड़ रगड़ कर साफ पानी से धो लीजिए और एक प्लेट पर निकल कर रख दे.

स्टेप -3 अब एक बरतन में 2 लीटर पानी रख कर उबालने को रखे, जब पानी में उबाल आ जाए तो पेठे के टुकड़े डाल कर उबाल आने के बाद पेठे को 20 मिनट तक मीडियम आंच पर उबालते हुए पका ले.

स्टेप -4 पेठे को 20 मिनट उबालने के बाद पेठा पारदर्शी दिखाई देने लगेगा, अब किसी बर्तन पर छननी रख कर पेठे को उबलते पानी से छान कर निकाल लीजिए, थोड़ी देर छननी पर ही रहने दे ताकि अतिरिक्त पानी निकल जाए.

स्टेप -5 तब तक हम चासनी बना लेंगे, एक बर्तन में चीनी और 3 कप पानी डाल कर चीनी घुलने तक पकने दीजिए, चीनी जब पानी में घुल जाए पेठे के टुकड़े डाल कर तेज़ आंच पर पेठे को चाशनी के गाढ़े होने तक पकाएं, बीच बीच में चमचे से चलाते रहे.

स्टेप -6 चाशनी के गाढ़ा होने पर चाशनी की कुछ बूंदे एक प्लेट पर गिरा कर चेक कर देखिए, आखिरी बूंद तार के रूप में निकल रही है तो चाशनी बन कर तैयार है.

स्टेप -7 चाशनी के बर्तन को उतार कर रख दीजिए और ठंडा होने दे, ठंडा हो जाने पर इसे ढक कर पेठे के टुकड़ों को चाशनी में 12 घंटे या रात भर रहने दे.

स्टेप -8 12 घंटे बाद पेठे का रस निकालने पर चाशनी पतली लग रही है तो इसे गाढ़ा करने के लिए आंच पर पकने रख दीजिए, थोड़ी थोड़ी देर पर चलाते रहे.

चाशनी अच्छे से गाढ़ा होने पर इसका रंग और टेक्सचर भी बदल जाता है, चाशनी को गिरा कर देखे, तो यह काफी गाढ़ी होगी अब यह तैयार है.

स्टेप -9 अब बर्तन को उतार कर एक एक स्टैंड पर रख दे और पेठे को ठंडा होने दीजिए

पेठे को सुखाने के लिए एक थाली के ऊपर प्याली और उसके ऊपर जाली रखिए, ताकि पेठे से अतिरिक्त चाशनी निकल कर थाली पर आ जाए और पेठे को ऊपर नीचे दोनों तरफ से हवा लगे और ये जल्दी सुख जाए.

जाली पर पेठे लगा कर पंखे के नीचे रख दीजिए, 3-4 घंटे में ये सुख कर तैयार हो जाते है.

अगर आप इनको लंबे समय तक स्टोर करना चाहते है तो पूरा एक दिन सूखने दीजिए.

आगरा का खास पेठा तैयार है, आप इसे किसी भी कंटेनर में भर कर स्टोर करे, और 2-3 महीने तक मजे से खाए और सबको खिलाए.

Video- INDIAN veg food

LEAVE A RESPONSE

error: Content is protected !!