Desserts

Bengali Mishti Doi Recipe बंगाली मिष्टी दही बनाने का आसान तरीका Misti Doi Recipe

बंगाल की ये पारंपरिक रेसिपी हर शादी पार्टी में बनाई जाती है, और बहुत अधिक पसंद की जाने वाली है, इसका स्वाद बहुत ही बढ़िया होता है, वैसे देखा जाए तो यह एक बंगाली स्वीट डिश है, जो बंगाल प्रदेश में घर-घर में बनती है, परिवार का कोई भी खास मौका हो, उपवास हो या फिर कोई त्यौहार, मि​ष्टी दोई बिन सब अधुरा सा लगता है.

असल में बंगाली मिष्टी दोई, एक प्रकार का ​मीठा दही है, जिसे गाढ़े दूध में चाशनी को कैरमलाइज करके तैयार किया जाता है, आप सब आसानी से इसे बना सकते है, ये सबको खाने में बहुत लजीज लगेगी.

जन्माष्टमी आने वाली है, ऐसे में भगवान श्री कृष्ण को प्रिय बनाना सीखें और भोग में लगाए.

इसके लिए आपको चाहिए

* फूल क्रीम दूध – 1 लीटर

* हरी इलायची पाउडर – 1/4 छोटी चम्मच

* चीनी या गुड़ – 1/4 कप या 100 ग्राम

* दही – 3 या 4 बड़े चम्मच

मिष्टी दही बनाने की विधि

* स्टेप -1 मिष्टी दही बनाने के लिए दूध को भगोने में रख कर गैस की फ्लेम पर उबलने को रखे, जब दूध में उबाल आ जाए तो गैस की फ्लेम को मीडियम कर दे, और बीच बीच में दूध को चलाते हुए इसे गाढ़ा होने तक पकाएं.

* स्टेप -2 हमे दूध को 1/3 गाढ़ा होने तक पकाना है, जब दूध गाढ़ा होने लगे यानी जब 60-70% रह जाए, गैस की फ्लेम को बंद कर दे, और इसमें 100 ग्राम की आधी चीनी और इलाइची पाउडर डाल कर मिला लें,बाकी की आधी चीनी को कैरामालाइज कर के दूध में मिलाएंगे.

* स्टेप -3 चीनी को कैरामालाइज करने के लिए एक भारी तले का बर्तन ले, गैस को ऑन कर दे और चीनी को लगातार चलाते रहे, चीनी पिघलने लगेगी, जब चीनी पूरी तरह पिघलने लगेगी इसका रंग हल्का भूरा होने लगेगा.

अब चीनी में थोड़ा दूध डाल कर अच्छे से मिक्स करे, दूध डालते वक्त गैस की फ्लेम को धीमी रखे, और दूध को कैरामालाइज शुगर में मिक्स करने के बाद आंच को बंद कर दे, इसे ज्यादा देर ना पकाएं.

* स्टेप -4 अब इसे सारे दूध में अच्छे से घोलते हुए अच्छे से मिला लीजिए, दूध को बस इतना ठंडा कर ले की इसे उंगलियों से छू सके, अब इसे जमाने के लिए मिट्टी के बर्तन या कुल्लड़ ले, इसमें ये खुशबू दार बनके तैयार होती है, सारे कुल्लड़ या स्टील के बर्तन जिसमे भी आप मिष्टी दही को जमाना चाहे, इनमें दूध को भर दे.

* स्टेप -5 अब कुल्लड़ में दही डाल कर मिलाएं, कुल्लड़ को ढक कर किसी गरम जगह पर 5-6 घंटे के लिए रख दे, अगर ठंड का दिन है तो 8-10 घंटे के लिए जमने को रखे.

तय समय बाद देखे बहुत ही बढ़िया मिष्टी दही बन कर तैयार होगी, मिट्टी की भीनी भीनी खुशबू इसके स्वाद को और बढ़ा देती है.

LEAVE A RESPONSE

error: Content is protected !!