Foody

अगर आप भी मैक्रोनी, पास्ता और मैगी जैसे फास्ट फूड खाने के शौकीन है तो सावधान हो जाएं

आज कल के लाइफ स्टाइल में मैक्रोनी, पास्ता, मैगी जैसी चीजों के बिना आप लोग गुजारा ही कर पाते है, बहुत सारी हेल्दी खाने होने के बावजूद लोग फास्ट फूड खा कर अपने और अपने बच्चों के स्वास्थ्य को जोखिम में डालते है, कई लोगो को तो जंक फूड खाने की आदत होती है और कई लोग पता होते हुए अनजान बनकर सब खाते पीते है, पहली बात इन चीजों में मिलावट होती है और ये मैदे से बनी होती है,

डाइटरी फाइबर के अभाव में मैदा बहुत चिकना और महीन होता है, जिससे आंतों में यह चिपकने लगता है. इस वजह से कब्‍ज की समस्‍या भी हो सकती है और इनडाइजेशन का कारण भी यह बन सकता है, ये केलोस्ट्रोल और ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है और हड्डियों को कमजोर कर देता है, और हमारे रोजाना खाने में जब हमारे पास देसी खाने में इतने सारे विकल्प है तो पता नहीं क्यों लोग पैकेट वाले खाने पर निर्भर हो जाते है,

दशकों पहले बैन किए जा चुके केमिकल्स की मौजूदगी अभी भी बच्चों के खाने पीने की चीजों में मौजूद है, जो आपके और आपके बच्चों के स्वास्थ्य को बहुत नुकसान पहुंचा सकता है.

ये मैक्रोनी, पास्ता, मैगी और नूडल्स जैसी प्रॉडक्ट्स पर की गई स्टडी के मुताबिक, सभी में फ्थैलेट पाया गया लेकिन चीज़ पावडर से बनी वस्तुओं में यह कुछ ज्यादा ही मात्रा में पाया गया, ये सामान्य से लगभग चार गुना ज्यादा थी, ऑर्गैनिक लेबल के साथ बिकने वाली चीजों पर किए टेस्ट के बाद उनमें भी फ्थैलेट की मात्रा ज्यादा ही पाई गई है.

बता दें कि फ्थैलेट जानबूझकर किसी खाने के सामान में ऐड नहीं किया जाता है, पैकेजिंग के लिए इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक को हल्का करने के लिए इस केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है, साथ ही साथ पैकेट पर प्रिंटिंग के लिए इस्तेमाल होने वाली स्याही में भी फ्थैलेट ज्यादा मात्रा में पाया जाता है.

ये केमिकल्स पैकेजिंग से आते हैं और महिलाओं और बच्चों को प्रभावित करते हैं, कंज्यूमर प्रॉडक्ट सेफ्टी कमीशन की एक रिपोर्ट के निर्देशो के बावजूद फूड ऐंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने इन केमिकल्स को बैन नहीं किया है, इस रिपोर्ट के अनुसार खाने की चीजें, ड्रग और बेवरेज ही फ्थैलेट के मुख्य स्रोत हैं, खिलौने नहीं.

कई बार हम ये हम खबरे पढ़ते है सुनते है पर नजर अंदाज कर देते है, और बच्चों को यही सब खिलाते है ये सोच कर की सब बेकार की बाते है और ये न खाए तो क्या खाए छोटी सी जिंदगी है, सोच कर.

पर दोस्तो अपनी और बच्चों की सेहत से खिलवाड़ करना कोई अच्छी बात नहीं इसका हर्जाना भी आपको ही भरना पड़ता है, आप घर पर बहुत सी ऐसी हेल्दी टेस्टी रेसिपी बना सकते है जो पास्ता, मैक्रोनी और मैगी से कई ज्यादा पसंद आएगी बच्चों बड़ो सबको

LEAVE A RESPONSE

error: Content is protected !!