pickles

क्या चखा है कभी ‘नींबू की चटनी’ का स्वाद, जानें बनाने का तरीका – Instant Lemon Chutney

हमारे देश में बहुत तरह की चटनी आचार प्रसिद्ध है, खाने के साथ चटनी खाना बहुत पसन्द किया जाता है,आज हम आपको नींबू की खट्टी-मीठी चटपटी चटनी बताने जा रहे हैं,इस चटनी की खास बात यह है कि इसे हम बिना तेल के बिना गैस जलाए बनाएंगे और महीनो तक स्टोर कर के खा सकेंगे,

इसे बनाना बहुत ही आसान है और इसे बनाते समय जो सुगंध आती है वह बहुत ही मनमोहक होती है और इससे भूख और भी ज्यादा बढ़ जाती है, इस नींबू की चटनी को खाने से आपके पेट की समस्या भी दूर होगी और विटामिन सी की कमी भी दूर होगी.

नींबू की चटनी चटपटी तो होती ही है साथ मे ये इतनी स्वादिष्ट खाने में लाजवाब होती है कि आप हमेशा है इसे बना कर खाएंगे,नीबू का उपयोग हमे ऐसे भी किसी ना किसी रूप में करना ही चाहिए ये बहुत फायदमंद होता है हमारे लिए,इस से मिलने वाला विटामिन सी शरीर की रोग प्रतरोधक शक्ति को बढ़ाता है.

आइए जानते है टेस्टी खट्टी मीठी नींबू की चटनी की रेसिपी

नींबू की चटनी बनाने के लिए आपको चाहिए।

नींबू Lemon – 4

काला नमक Black Salt – 2 pinch

हींग Asafetida – 1 pinch

जीरा Cumin Seeds – 1 tsp

नमक Salt – स्वाद अनुसार

लाल मिर्च – 1/2 tsp

शक्कर – आश्यकतानुसार

नींबू की चटपटी चटनी बनाने कि विधि –

* नींबू के बीज निकाल कर छोटे छोटे टुकड़ों में काट ले.

* अब इसे एक मिक्सर जार में डाले, साथ में इसमें सारी सामग्री डाले और इसे बारीक पीस ले.

* नींबू की चटनी तैयार है.

* इसे आप कांच के जार में दाल कर रख सकते है और कुछ दिन धूप दिखा ले.

* ये चटनी जितनी पुरानी होती जाती है, इसका टेस्ट उतना ही बढ़ता जाता है,

* इसे आप रोटी, पूरी, पराठे, मठरी या ब्रेड के साथ खाए और अपनी फैमिली के साथ enjoy करें.

नींबू की चटनी बनाते वक्त कुछ बातों को ध्यान रखे.

* नीबू के सारे बीज निकल कर है पीसे वरना ये कड़वा हो जाएगा.

* नींबू हमेशा ताजे ले और नीबू धोने के बाद इसे सूखा ले इसमें पानी ना रहे नहीं तो ये खराब हो सकती है.

*इस चटनी में कोई प्रिजर्वेटिव की जरुरत नहीं होती नींबू खुद प्रिजर्वेटिव का काम करता है, इसे कम से कम 3-4 दिन की धूप जरूर लगाएं,

* यह चटनी आप फ्रिज के बाहर भी रख सकते है खराब नहीं होती बिल्कुल.

थैंक्स यू.

बिना कुकर, बिना तेल निम्बू का खट्टा-मीठा अचार एक बार बनाएं, सालों साल खाएं Khatta Meetha Nimbu Achar

LEAVE A RESPONSE

error: Content is protected !!